You are currently viewing Important GK facts Indian Ocean in hindi

Important GK facts Indian Ocean in hindi

हिन्दी ऑनलाइन जानकारी के मंच पर आज हम भूगोल विषय के अन्तर्गत hind mahasagar in hindi, Indian Ocean in hindi, हिन्द महासागर के बारे में जानकारी पढ़ेंगे। ताकि आप प्रतियोगिता परीक्षाओं में आने वाले भूगोल विषय से जुड़े हुए प्रश्नों को आसानी से हल कर सकें।

आइए पढ़ते हैं facts about indian ocean in hindi -:

हिन्द महासागर के बारे में जानकारी Indian Ocean in hindi -:

Hind Mahasagar in hindi, हिन्द महासागर के बारे में जानकारी, indian ocean in hindi, hind mahasagar ke bare me, facts about hind mahasagar in hindi
Hind Mahasagar in hindi, हिन्द महासागर के बारे में जानकारी, indian ocean in hindi

~ हिन्द महासागर विश्व का तीसरा सबसे बड़ा महासागर है। इस महासागर का क्षेत्रफल लगभग 7,05,60,000 वर्ग किमी है।

~ हिन्द महासागर उत्तर में एशिया महाद्वीप से पूर्णतः अवरोधित है। इसलिए इसे अर्द्ध सागर माना जा सकता है। इसका उत्तरी किनारा बहुत कटा फटा है।

~ पश्चिम में अफ्रीका तथा पूर्व में ऑस्ट्रेलिया और इंडोनेशिया की द्वीप श्रंखला स्थित है। दक्षिण में यह अंटार्कटिका महाद्वीप तक फैला हुआ है।

~ यह महासागर विश्व के अन्य महासागरों की तुलना सबसे अधिक गर्म महासागर है।

~ हिन्द महासागर को एक युवा महासागर माना जाता है हिन्द महासागर ने मात्र 3.6 करोड़ वर्ष पहले ही अपना वर्तमान रूप ग्रहण किया है।

~ हिन्द महासागर की औसत गहराई लगभग 3750 मी. है।

~ इसमें तटीय सागरों की संख्या भी कम है। हिन्द महासागर के सीमांत सागरों में मोजाम्बिक चैनल , लाल सागर, अंडमान सागर, फारस की खाड़ी प्रमुख हैं।

~ हिन्द महासागर के दक्षिण में एक तरफ प्रशांत महासागर तथा दूसरी तरफ अटलांटिक महासागर है।

~ अन्य महासागरों की अपेक्षा हिन्द महासागर के नितल पर असमानताएं भी कम हैं। रैखिक गर्त लगभग न के बराबर है।

~ सुंडा गर्त एक मात्र अपवाद है। जो इंडोनेशिया के जावा द्वीप के दक्षिण में उसके समानांतर स्थित है। इसकी लंबाई लगभग 3200 किमी. तक है। सुंडा ट्रेंच को जावा ट्रेंच के नाम से भी जाना जाता है। हिन्द महासागर का सबसे अधिक गहराई वाला स्थान भी इसी सुंडा ट्रेंच में स्थित है। इसकी गहराई लगभग 7725 मी. है।

~ इस महासागर के नितल पर अनेक चौड़े जलमग्न कटक हैं। कन्याकुमारी से लेकर अंटार्कटिका महाद्वीप तक एक प्रमुख जलमग्न कटक है। यह उत्तर में लक्षद्वीप चागोस कटक, मध्य में सेंट पॉल कटक और दक्षिण में एम्सटर्डम सेंट पॉल पठार के नाम से जाना जाता है। दो छोटे और समानांतर कटक उत्तर की ओर फैले हुए हैं। इन्हें सोकोत्रा चागोस तथा सेशल्स कटक कहते हैं।

~ दक्षिणी मेडागास्कर कटक, जो मेडागास्कर द्वीप से दक्षिण की ओर फैला हुआ है। उसे दक्षिण में अधिक चौड़ाई पर प्रिंस एडवर्ड क्रोजेट कटक कहते हैं।

~ अंडमान निकोबार कटक, जो इरावदी नदी के मुहाने से लेकर निकोबार द्वीपसमूह तक फैला हुआ है।

~ कार्ल्सबर्ग कटक, अरब सागर को दो भागों में विभाजित करता है।

~ ये कटक हिन्द महासागर को अनेक बेसिनों में बांटते हैं। इनमें मध्य बेसिन, अरब बेसिन, दक्षिण भारतीय बेसिन, मॉरिशस बेसिन, सोमाली बेसिन, पश्चिम ऑस्ट्रेलियन बेसिन तथा दक्षिण ऑस्ट्रेलियन बेसिन मुख्य हैं।

~ हिन्द महासागर के अधिकांश द्वीप महाद्वीपीय खंडों से टूटकर अलग हुए हैं। अंडमान निकोबार द्वीपसमूह, श्री लंका, मेडागासकर तथा जंजीबार इसके उदाहरण हैं।

~ भारत के दक्षिण पश्चिमी तट के पास स्थित लक्षद्वीप तथा मालद्वीव प्रवाल द्वीप के उदाहरण हैं।

~ मेडागास्कर के पूर्व में स्थित मॉरिशस तथा रीयूनियन द्वीप ज्वालामुखी प्रक्रिया से उत्पन्न द्वीप हैं।

Thank you for reading this article हिन्द महासागर के बारे में जानकारी, hind mahasagar in hindi, important facts about Indian Ocean in hindi.

हिन्द महासागर का सबसे बड़ा द्वीप कौन सा है ?

मेडागास्कर

हिन्द महासागर का सबसे गहरा गर्त कौन सा है ?

सुंडा गर्त/जावा गर्त

यदि इस लेख हिन्द महासागर के बारे में जानकारी में किसी प्रकार की कोई गलती हो तो कृपया टिप्पणी करके जरूर बताएं।

हिन्दी ऑनलाइन जानकारी पर hind mahasagar in hindi/Indian ocean in hindi के साथ – साथ सामान्य ज्ञान के अन्य लेख भी जरूर पढ़ें।

सामान्य ज्ञान के लेख -:

please do subscribe -: Youtube Channel

Leave a Reply