भारत रत्न विजेता लिस्ट, bharat ratna award list in india, bharat ratna list, bharat ratna winners, bharat ratna list, first bharat ratna

Bharat Ratna Award List In India 2024 Important Facts

हिन्दी ऑनलाइन जानकारी के मंच पर आज हम Bharat Ratna Award List In Hindi के साथ साथ भारत रत्न पुरस्कार के बारे में महत्त्वपूर्ण जानकारी भी पढ़ेंगे। भारत रत्न विजेता लिस्ट 2024, भारत रत्न पुरस्कार की शुरुआत कब हुई ?, भारत रत्न प्राप्त करने वाले पहले व्यक्ति कौन थे ?

बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री कर्पूरी ठाकुर को (मरणोपरांत) भारत रत्न पुरस्कार 2024 से सम्मानित किया जाएगा। राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू ने उनकी 100वीं जयंती से एक दिन पहले 23 जनवरी 2024 को यह घोषणा की। कर्पूरी ठाकुर दो बार बिहार के मुख्यमंत्री और एक बार डिप्टी सीएम रहे।

साथ ही भारतीय जनता पार्टी के वरिष्ठ नेता और देश के पूर्व उप प्रधानमंत्री लालकृष्ण आडवाणी को देश के सर्वोच्च नागरिक सम्मान भारत रत्न से सम्मानित करने का एलान किया गया है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ख़ुद सोशल मीडिया साइट एक्स पर 3 फ़रवरी 2024 को यह घोषणा की। वह भारत रत्न से सम्मानित होने वाले 50वें व्यक्ति हैं।

9 फरवरी 2024 को केंद्र सरकार ने पूर्व प्रधानमंत्री चौधरी चरण सिंह और पीवी नरसिंहा राव, वैज्ञानिक एमएस स्वामीनाथन को भी सर्वोच्च नागरिक सम्मान भारत रत्न देने का एलान किया है। अब तक 53 हस्तियों को भारत के सर्वोच्च सम्मान से नवाजा जा चुका है।

भारत रत्न पुरस्कार के बारे में महत्त्वपूर्ण जानकारी Bharat Ratna Award In Hindi -:

~ भारत रत्न सम्मान भारत का सर्वोच्च नागरिक पुरस्कार है।

~ भारत रत्न की शुरुआत 2 जनवरी 1954 में भारत के तत्कालीन राष्ट्रपति राजेंद्र प्रसाद द्वारा की गई थी।

~ भारत रत्न पुरस्कार सम्मान भारत के राष्ट्रपति द्वारा दिया जाता है। लेकिन यह पुरस्कार किसे देना है इसकी सिफारिश भारत के प्रधानमंत्री द्वारा की जाती है।

~ भारत रत्न सम्मान में भारत के राष्ट्रपति द्वारा एक पदक और एक प्रशस्ति पत्र दिया जाता है।

~ 2011 से पहले भारत रत्न कला, संस्कृति व विज्ञान के क्षेत्र में की गई विशिष्ट सेवा तथा उच्‍चतम स्‍तर के लोक सेवा कार्य करने के लिए प्रदान किया जाता था। लेकिन 2011 में किए गए संशोधन के बाद अब भारत रत्न पुरस्कार को प्रदान करने के लिए कोई विशेष क्षेत्र निर्धारित नहीं किया गया है। अब भारत रत्न प्राप्त करने वाले व्यक्ति किसी भी क्षेत्र में विशेष सेवा करने वाले हो सकते हैं।

~ यह जरूरी नहीं है कि भारत रत्‍न सम्‍मान प्रति वर्ष दिया जाए।

~ भारत रत्न पुरस्कार एक वर्ष में अधिकतम तीन व्यक्तियों को ही दिया जा सकता है।

~ भारत रत्न पुरस्कार पश्चिम बंगाल के अलीपुर में बनाया जाता है।

~ भारत रत्न पुरस्कार के डिजाइन में वक्त के साथ बदलाव भी किया गया है। पहले भारत रत्न पुरस्कार का डिजाइन 35 मिमी गोलाकार स्वर्ण पदक के रूप में था। जिसमें सामने की तरफ सूर्य बना हुआ था और ऊपर देवनागरी लिपि में भारत रत्न लिखा हुआ था। नीचे की तरफ पुष्पों का हार बना हुआ था तथा पीछे की तरफ़ राष्ट्रीय चिह्न और ध्येय वाक्य लिखा होता था। बाद में पदक के इस डिज़ाइन को बदल दिया गया।

bharat ratna award

~ अब भारत रत्न पुरस्कार कांस्य से निर्मित पीपल की पत्ती की आकृति का होता है। इसके अगले भाग में सूर्य की आकृति अंकित होती है। जिसके नीचे देवनागरी लिपि में भारत रत्न अंकित होता है। इसके पृष्ठ भाग में राष्ट्रीय प्रतीक ( अशोक के सिंह स्तंभ की अनुकृति ) और सत्यमेव जयते अंकित होता है। राष्ट्रीय प्रतीक, सूर्य और पदक के किनारे तीनों प्लेटिनम से बने होते हैं। यह पदक 5.8 सेमी लंबा, 4.7 सेमी चौड़ा और 3.1 मिमी मोटाई का होता है। इसे सफेद धागे के साथ गले में पहनाया जाता है।

~ भारत रत्न पुरस्कार कोई पदवी नहीं है बल्कि सिर्फ़ एक सम्मान सूचक है। कोई भी व्यक्ति इसे अपने नाम के साथ पदवी के तौर पर इस्तेमाल नहीं कर सकता है।

~ भारत रत्न योग्यता आधारित पुरस्कार है। यह सम्मान भारत के किसी भी नागरिक को दिया जा सकता है, चाहे वह किसी भी धर्म, जाति, व्यवसाय, पद और लिंग से सम्बंधित हो।

~ ऐसा कोई लिखित प्रावधान नहीं है कि भारत रत्न पुरस्कार केवल भारतीय नागरिकों को ही दिया जाएगा। इसलिए भारत रत्न पुरस्कार विदेशियों को भी दिया गया है। भारत रत्न पुरस्कार प्राप्त करने वाले दो गैर भारतीय हैं। – खान अब्दुल गफ्फार खां (1987) तथा नेल्सन मंडेला (1990)

~ सन् 1954 में जब भारत रत्न पुरस्कार की शुरुआत की गई तब सबसे पहले यह सम्मान चक्रवर्ती राजगोपालाचारी, सर्वपल्ली राधाकृष्णन और सी.वी. रमन को दिया गया था। (First bharat ratna award winner in hindi)

~ भारत रत्न पुरस्कार विवादित भी रहा है। वर्ष 1977 से 1980 तक और 1992 से 1995 तक भारत रत्न पुरस्कार पर रोक लगा दी गई। जनता पार्टी सरकार के प्रधानमंत्री मोरारजी देसाई द्वारा 13 जुलाई 1977 में इस पुरस्कार पर रोक लगा दी गई थी, लेकिन 1980 कांग्रेस सरकार ने इसे पुनः शुरू किया। वर्ष 1992 में भारत रत्न पुरस्कार की वैधता को लेकर ही कुछ प्रश्न उठाए गए। तथा कोर्ट में याचिका दाखिल की गई। इस कारण 1992 से लेकर 1995 तक भारत रत्न सम्मान किसी को नहीं दिए गए। सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद ही भारत रत्न सम्मान देने की फिर से शुरुआत हुई।

~ भारत के पहले शिक्षा मंत्री मौलाना अबुल कलाम आज़ाद को जब भारत रत्न पुरस्कार देने की बात आई तो उन्होंने स्पष्ट रूप से यह कहते हुए मना कर दिया था कि जो लोग इसकी चयन समिति में रहे हों, उनको यह सम्मान नहीं दिया जाना चाहिए। बाद में 1992 में उन्हें मरणोपरांत यह सम्मान दिया गया।

~ शुरुआत में भारत रत्न सम्मान को मरणोपरांत देने का प्रावधान नहीं था, लेकिन 1955 में मरणोपरांत पुरस्कार देने का प्रावधान जोड़ा गया। उसके बाद यह सम्मान लोगों को मरणोपरांत भी दिया जाने लगा है।

~ मरणोपरांत भारत रत्न पुरस्कार पाने वाले सबसे पहले व्यक्ति लाल बहादुर शास्त्री थे।

~ सन् 1992 में नेताजी सुभाषचन्द्र बोस को मरणोपरांत भारत रत्न से सम्मानित किया गया था, लेकिन उनकी मृत्यु विवादित होने के कारण भारत सरकार ने यह सम्मान वापस ले लिया। सम्मान वापस लिए जाने का यह इकलौता उदाहरण है।

~ भारत रत्न पुरस्कार प्राप्त करने वाले व्यक्तियों को किसी भी प्रकार की राशि प्रदान नहीं की जाती है। (bharat ratna prize money in hindi)

~ यह सम्मान पाने वाले व्यक्तियों को अन्य प्रमुख सुविधाएं उपलब्ध कराई जाती है। जिनमे से निम्नलिखित सुविधाएं प्रमुख हैं।

  • अगर सम्मानित व्यक्ति किसी राज्य में जाते हैं तो राज्य सरकार राज्य के अतिथि के रूप में उनका स्वागत करती है। साथ ही राज्य सरकार उनको राज्य में परिवहन व राज्य में ठहरने की सुविधा आदि देती है। नियमानुसार सुरक्षा भी प्रदान की जाती है।
  • राज्य सरकार उनके परिवार के सदस्यों (पति / पत्नी और बच्चों) को भी नियमानुसार सुविधा प्रदान कराती है। इसी के साथ व्यक्तिगत स्टाफ और ड्राइवर भी दिए जाते हैं।
  • विदेश यात्रा के दौरान भारतीय दूतावास उन्हें उचित सुरक्षा प्रदान कराते हैं। भारत रत्न पुरस्कार से सम्मानित व्यक्ति एक डिप्लोमैटिक पासपोर्ट का भी हकदार होता है।
  • एयर इंडिया में जीवन पर्यन्त मुफ्त एक्जीक्यूटिव क्लास यात्रा करने की सुविधा प्रदान की जाती है।
  • भारत रत्न सम्मान पाने वाले व्यक्ति को Table of Precedence (वरीयता क्रम की सूची) में 7A पोजिशन पर स्थान दिया गया है। Table of Precedence सरकारी कार्यक्रमों में वरीयता देने के लिए होता है।

भारत रत्न विजेता लिस्ट 2024 Bharat Ratna award List 2024 In Hindi -:

क्रमांकभारत रत्न पुरस्कार विजेतावर्ष
1.डॉ. चन्द्रशेखर वेंकटरमण1954
2.चक्रवर्ती राजगोपालाचारी1954
3.डॉ. सर्वपल्ली राधाकृष्णन1954
4.सर मोक्षगुंडम विश्वेश्वरैया1955
5.डॉ. भगवान दास1955
6.जवाहर लाल नेहरू1955
7.गोविन्द वल्लभ पंत1957
8.महर्षि डॉ॰ धोंडो केशव कर्वे1958
9.राजर्षि पुरुषोत्तम दास टंडन1961
10.डॉ॰ बिधान चंद्र राय1961
11.डॉ. राजेन्द्र प्रसाद1962
12.डॉ. जाकिर हुसैन1963
13.डॉ. पांडुरंग वामन काणे1963
14.लाल बहादुर शास्त्री (मरणोपरांत)1966
15.इंदिरा गांधी1971
16.वराहगिरी वेंकट गिरी (V. V. Giri)1975
17.कुमारस्वामी कामराज (मरणोपरांत)1976
18.मदर टेरेसा1980
19.आचार्य विनोबा भावे (मरणोपरांत)1983
20.खान अब्दुल गफ्फार खान1987
21.मरुथुर गोपालन रामचंद्रन/MGR (मरणोपरांत)1988
22.डॉ. भीमराव अम्बेडकर (मरणोपरांत)1990
23.नेल्सन मंडेला1990
24.सरदार वल्लभ भाई पटेल (मरणोपरांत)1991
25.मोरार जी देसाई1991
26.राजीव गांधी (मरणोपरांत)1991
27.मौलाना अबुल कलाम आजाद (मरणोपरांत)1992
28.जे. आर. डी. टाटा1992
29.सत्यजीत रे1992
30.डॉ. एपीजे अब्दुल कलाम1997
31.अरुणा आसफ अली (मरणोपरांत)1997
32.गुलज़ारी लाल नंदा1997
33.एम. एस. सुब्बुलक्ष्मी1998
34.चिदम्बरम् सुब्रह्मण्यम्1998
35.जयप्रकाश नारायण (मरणोपरांत)1999
36.पंडित रविशंकर1999
37.प्रोफेसर अमर्त्य सेन1999
38.गोपीनाथ बोरदोलोई (मरणोपरांत)1999
39.उस्ताद बिस्मिल्लाह खां2001
40.लता मंगेशकर2001
41.भीमसेन जोशी2008
42.चिंतामणि नागेश रामचंद्र राव/C. N. R. Rao2014
43.सचिन तेंडुलकर2014
44.अटल बिहारी वाजपेयी2015
45.मदन मोहन मालवीय (मरणोपरांत)2015
46.नानाजी देशमुख (मरणोपरांत)2019
47.प्रणब मुखर्जी2019
48.भूपेन हजारिका (मरणोपरांत)2019
49.कर्पूरी ठाकुर (मरणोपरांत)2024
50.लालकृष्ण आडवाणी2024
51.चौधरी चरण सिंह (मरणोपरांत)2024
52.पी. वी. नरसिंह राव (मरणोपरांत)2024
53.एम. एस. स्वामीनाथन (मरणोपरांत)2024
भारत रत्न विजेता लिस्ट 2024 Bharat Ratna award List 2024


भारत रत्न पुरस्कार राशि कितनी है ?

भारत रत्न पुरस्कार विजेता को किसी भी प्रकार की नकद राशि प्रदान नहीं की जाती है।

पहला भारत रत्न एक साथ कितने लोगों को दिया गया ?

चक्रवर्ती राजगोपालाचारी, सर्वपल्ली राधाकृष्णन और सी.वी. रमन

हाल ही में भारत रत्न पुरस्कार 2024 किसे मिला है?

कर्पूरी ठाकुर (मरणोपरांत), लालकृष्ण आडवाणी, चौधरी चरण सिंह (मरणोपरांत), पी. वी. नरसिंह राव (मरणोपरांत), एम. एस. स्वामीनाथन (मरणोपरांत)

सामान्य ज्ञान के अन्य लेख -:

Please Do Subscribe -: Youtube Channel