You are currently viewing 20 + Famous Lokmanya Bal Gangadhar Tilak Quotes in hindi

20 + Famous Lokmanya Bal Gangadhar Tilak Quotes in hindi

हिन्दी ऑनलाइन जानकारी पर आज हम पढ़ेंगे लोकमान्य बाल गंगाधर तिलक के विचार, Famous Lokmanya Bal Gangadhar Tilak Quotes in hindi, Lokmanya Bal Gangadhar Tilak slogan in hindi, Lokmanya Bal Gangadhar Tilak ke anmol vichar.

Lokmanya Bal Gangadhar Tilak Quotes in hindi लोकमान्य बाल गंगाधर तिलक के विचार -:

लोकमान्य बाल गंगाधर तिलक के विचार, Lokmanya Bal Gangadhar Tilak Quotes in hindi, Bal Gangadhar Tilak slogan in hindi, Bal Gangadhar Tilak ke anmol vichar
लोकमान्य बाल गंगाधर तिलक के विचार, Bal Gangadhar Tilak slogan in hindi

~ स्वराज मेरा जन्मसिद्ध अधिकार है और मैं इसे लेकर रहूँगा।

~ भारत की गरीबी पूरी तरह से वर्तमान शासन की वजह से है।

~ यदि भगवान छुआछूत को मानते हैं, तो मैं उन्हें भगवान नहीं कहूँगा।

~ आपका लक्ष्य किसी जादू से नहीं पूरा होगा, बल्कि आपको ही अपना लक्ष्य प्राप्त करना पड़ेगा।

~ मानव स्वभाव ही ऐसा है कि हम बिना उत्सवों के नहीं रह सकते, उत्सवप्रिय होना मानव स्वभाव है। हमारे त्यौहार होने ही चाहिए।

~ कर्त्तव्य पथ पर गुलाब-जल नहीं छिड़का होता है और ना ही उस पर गुलाब उगते हैं।

~ आप केवल कर्म करते जाइए, उसके परिणामों पर ध्यान मत दीजिये।

लोकमान्य बाल गंगाधर तिलक के विचार, Lokmanya Bal Gangadhar Tilak Quotes in hindi, Bal Gangadhar Tilak slogan in hindi, Bal Gangadhar Tilak ke anmol vichar
Lokmanya Bal Gangadhar Tilak Quotes in hindi, Bal Gangadhar Tilak slogan in hindi, Bal Gangadhar Tilak ke anmol vichar

~ महान उपलब्धियाँ कभी भी आसानी से नहीं मिलती और आसानी से मिली उपलब्धियाँ महान नहीं होतीं।

~ आप मुश्किल समय में खतरों और असफलताओं के डर से बचने का प्रयास मत कीजिये। वे तो निश्चित रूप से आपके मार्ग में आयेंगे ही।

~ जब लोहा गरम हो तभी उस पर चोट कीजिए। आपको निश्चय ही सफलता का यश प्राप्त होगा।

~ मनुष्य का प्रमुख लक्ष्य भोजन प्राप्त करना ही नहीं है। एक कौवा भी जीवित रहता है और जूठन पर पलता है।

~ गर्म हवा के झोंकों में जाए बिना, कष्ट उठाये बिना, पैरों मे छाले पड़े बिना स्वतन्त्रता नहीं मिल सकती। बिना कष्ट के कुछ नहीं मिलता।

~ क्या पता ये भगवान की मर्जी हो कि मैं जिस वजह का प्रतिनिधित्व करता हूँ, उसे मेरे आजाद रहने से ज्यादा मेरे दुखी होने से अधिक लाभ मिले।

~ यह सत्य है कि बारिश की कमी के कारण अकाल पड़ता है। लेकिन यह भी सत्य है कि हमारे लोगों में इस बुराई से लड़ने की शक्ति नहीं है।

~ प्रातः काल में उदय होने के लिए ही सूरज संध्या काल के अंधकार में डूब जाता है और अंधकार में जाए बिना प्रकाश प्राप्त नहीं हो सकता।

~ भारत का तब तक खून बहाया जा रहा है, जब तक यहाँ सिर्फ कंकाल शेष ना रह जाएं।

~ कमजोर ना बनें, शक्तिशाली बनें और यह विश्वास रखें कि भगवान हमेशा आपके साथ है।

~ यदि हम किसी भी देश के इतिहास के अतीत में जाएं, तो हम अंत में मिथकों और परम्पराओं के काल में पहुंच जाते हैं। जो आखिरकार अभेद्य अन्धकार में खो जाता है।

~ अपने हितों की रक्षा के लिए यदि हम स्वयं जागरूक नहीं होंगे तो दूसरा कौन होगा ? हमे इस समय सोना नहीं चाहिये, हमें अपने लक्ष्य की पूर्ति के लिए प्रयत्न करना चाहिये।

~ एक बहुत प्राचीन सिद्धांत है कि ईश्वर उनकी ही सहायता करता है, जो अपनी सहायता आप करते हैं। आलसी व्यक्तियों के लिए ईश्वर अवतार नहीं लेता। वह उद्योगशील व्यक्तियों के लिए ही अवतरित होता है। इसलिए कार्य करना शुरु कीजिये।

~ प्रगति स्वतंत्रता में निहित है। बिना स्वशासन के न औद्योगिक विकास संभव है, न ही राष्ट्र के लिए शैक्षिक योजनाओं की कोई उपयोगिता है। देश की स्वतंत्रता के लिए प्रयत्न करना सामाजिक सुधारों से अधिक महत्वपूर्ण है।

~ धर्म और व्यावहारिक जीवन अलग नहीं हैं। सन्यास लेना जीवन का परित्याग करना नहीं है। असली भावना सिर्फ अपने लिए काम करने की बजाये देश को अपना परिवार बना मिलजुल कर काम करना है। इसके बाद का कदम मानवता की सेवा करना है और अगला कदम ईश्वर की सेवा करना है।

अन्य सुविचार लेख -:

Please do subscribe -: Youtube Channel

Leave a Reply