FATF in hindi/financial action task force upsc in hindi 2020

वित्तीय कार्रवाई कार्य बल, FATF in hindi, financial action task force upsc in hindi, financial action task force in hindi, fatf full form in hindi, fatf hindi
वित्तीय कार्रवाई कार्य बल, FATF in hindi, financial action task force upsc in hindi, financial action task force in hindi, fatf full form in hindi

हिन्दी ऑनलाइन जानकारी के मंच पर आज हम जानेंगे वित्तीय कार्रवाई कार्य बल/Financial Action Task Force upsc in hindi/FATF in hindi, fatf full form in hindi क्या है?

FATF in hindi/financial action task force upsc in hindi -:

प्रश्न -: वित्तीय कार्रवाई कार्यदल/Financial Action Task Force/FATF क्या है ?

उत्तर -: Financial Action Task Force (फाइनेंशियल एक्शन टास्क फोर्स/वित्तीय कार्रवाई टास्क फोर्स) एक अंतर सरकारी संस्था है। जो आतंकी संगठनों की आर्थिक मदद करने वाले तथा मनी लांड्रिंग जैसे गैर कानूनी मामलों में लिप्त देशों तथा संगठनों पर नज़र रखती है। ( FATF in hindi ) वित्तीय कार्रवाई कार्यदल ने टेरर फाइनेंसिंग और मनी लॉन्ड्रिंग के ख़िलाफ़ नियम और दिशा निर्देश (Guidelines) बनाए हैं। जो देश इन नियमों का उल्लघंन करते हुए पाया जाता है उन देशों को Fatf द्वारा ‘ग्रे लिस्ट’ और ‘ब्लैक लिस्ट’ में डाल दिया जाता है।

read also -: मनी लांड्रिंग क्या है ?

प्रश्न -: वित्तीय कार्रवाई कार्य बल/Financial Action Task Force (FATF) का गठन कब किया गया था ?

उत्तर -: Financial Action Task Force (FATF) का गठन 1989 में एक अंतर सरकारी संगठन ( Inter Governmental Organization ) के रूप में हुआ है।

प्रश्न -: Financial Action Task Force (FATF) का गठन किसके द्वारा किया गया था ?

उत्तर -: इसका गठन group-7 (G-7) देशों के द्वारा किया गया था। G-7 देशों में अमेरिका, यूनाइटेड किंगडम, जापान, कनाडा, इटली, फ्रांस और जर्मनी शामिल हैं।

प्रश्न -: Financial Action Task Force (FATF) का मुख्यालय कहां स्थित है ?

उत्तर -: Financial Action Task Force (FATF) का मुख्यालय फ्रांस के पेरिस में स्थित है।

प्रश्न -: ग्रे लिस्ट क्या है ?

उत्तर -: Financial Action Task Force की ग्रे लिस्ट टेरर फंडिंग और मनी लॉन्ड्रिंग करने वाले देशों के लिए एक प्रकार की चेतावनी होती है। जब किसी देश को ग्रे लिस्ट में शामिल किया जाता है तो उसे अंतर्राष्ट्रीय संस्थानों जैसे कि विश्व बैंक, IMF, एशियाई विकास बैंक आदि द्वारा आर्थिक प्रतिबंधों का सामना करना पड़ता है। जिससे संबंधित देश को इन संस्थानों के साथ साथ अन्य देशों से भी ऋण प्राप्त करने में समस्या आती है। अगर संबंधित देश टेरर फंडिंग और मनी लॉन्ड्रिंग को रोकने के लिए जरूरी कार्यवाही नहीं करते हैं तो उस देश को ब्लैक लिस्ट में डाल दिया जाता है।

प्रश्न -: ब्लैक लिस्ट क्या है ?

उत्तर -: ग्रे लिस्ट में शामिल हुए देश जब चेतावनी के बाद भी टेरर फंडिंग और मनी लॉन्ड्रिंग गतिविधियों पर रोक नहीं लगाते हैं। उन्हें ब्लैक लिस्ट में शामिल कर दिया जाता है। इन देशों को नॉन कोऑपरेटिव कंट्रीज ऑर टेरिटरीज (Non Cooperative Countries and Territories/NCCTs) कहा जाता है। ब्लैक लिस्ट में शामिल होने वाले देश पर अंतरराष्ट्रीय संस्थानों IMF, वर्ल्ड बैंक आदि तथा अन्य देशों द्वारा कड़े प्रतिबंध लगा दिए जाते हैं।

प्रश्न -: Financial Action Task Force (FATF) में कितने सदस्य हैं ?

उत्तर -: Financial Action Task Force (FATF) में कुल 39 सदस्य हैं। इसमें 37 देश और दो क्षेत्रीय संगठन हैं।

प्रश्न -: क्या भारत Financial Action Task Force (FATF) का सदस्य है ?

उत्तर -: भारत FATF का सदस्य है। भारत ने 2006 से Financial Action Task Force (FATF) के आब्जर्वर के रूप में कार्य किया। तथा 2010 में भारत ने FATF के 34 वे सदस्य के रूप में सदस्यता ग्रहण की।

प्रश्न -: क्या पाकिस्तान Financial Action Task Force (FATF) का सदस्य है ?

उत्तर -: नहीं, पाकिस्तान इसका सदस्य नहीं है।

प्रश्न -: क्या वित्तीय कार्रवाई कार्यदल/Financial Action Task Force (FATF) ने वर्चुअल करेंसी के लिए भी दिशा निर्देश बनाए हैं ?

उत्तर -: FATF ने बिटकॉइन जैसी वर्चुअल करेंसी से सम्बंधित मुद्दों पर भी ध्यान देना शुरू कर दिया है। क्यूंकि वर्चुअल करेंसी से भी आतंकी फंडिंग और मनी लांड्रिंग के काम किए जा रहे हैं।

प्रश्न -: क्या वित्तीय कार्रवाई कार्यदल संबंधित देश को सजा देता है ?

उत्तर -: वित्तीय कार्रवाई कार्यदल/Financial Action Task Force (FATF) सिर्फ एक अंतरराष्ट्रीय नीति-निर्माण निकाय है। जो बताता है कि कौन सा देश आतंकवाद और मनी लांड्रिंग जैसे गैर कानूनी कामों में लिप्त है। इसलिए आतंकवाद और मनी लांड्रिंग से संबंधित कानूनी मामलों तथा इस से संबंधित जांच या अभियोजन में इसकी कोई भूमिका नहीं है।

प्रश्न -: Financial Action Task Force (FATF) को हिन्दी में क्या कहते हैं ?

उत्तर -: financial action task force (fatf) को हिन्दी में वित्तीय कार्रवाई कार्य दल/वित्तीय कार्रवाई कार्य बल कहते हैं।

FATF full form in hindi

Fatf ka full form Financial Action Task Force/फाइनेंशियल एक्शन टास्क फोर्स/वित्तीय कार्रवाई कार्यदल है।

FATF की ब्लैक लिस्ट में कौन से देश शामिल हैं ?

उत्तर कोरिया, ईरान

वित्तीय कार्रवाई कार्यबल/Financial Action Task Force (FATF) के अध्यक्ष कौन हैं ?

Dr. Marcus Pleyer ( Germany )

Thank you for reading important facts about financial action task force upsc in hindi, वित्तीय कार्रवाई कार्य बल/FATF के बारे में/financial action task force upsc in hindi.

please do subscribe -: YouTube Channel

अन्य लेख -:

प्रेरणादायक लेख व कविताएं -:

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.